poetry

शिक्षक दिवस पर शिक्षक कविता | Poem on Teachers day hindi

समस्त शिक्षकगणों के सम्मान में कुछ सुन्दर शिक्षक दिवस पर कविताएँ यहाँ उपलब्ध हैं| दीपक सा जलता है शिक्षक” दीपक सा जलता है शिक्षक फैलाने ज्ञान का प्रकाश न भूख उसे किसी दौलत की न कोई लालच न आस उसे चाहिए, हमारी उपलब्ध‍ियां उंचाईयां, जहां हम जब खड़े होकर उनकी तरफ देखें पलटकर तो गौरव […]

poetry

संत कबीर दास के दोहे अर्थ सहित

Kabir Ke Dohe – संत कबीर दास के दोहे अर्थ सहित दोहा “जिन खोजा तिन पाइया, गहरे पानी पैठ, मैं बपुरा बूडन डरा, रहा किनारे बैठ।” अर्थ – जीवन में जो लोग हमेशा प्रयास करते हैं वो उन्हें जो चाहे वो पा लेते हैं जैसे कोई गोताखोर गहरे पानी में जाता है तो कुछ न […]

poetry

रहीम के दोहे हिंदी अर्थ सहित | Rahim Ke Dohe In Hindi

रहीमदास के दोहे – Rahim Ke Dohe   कबीर के दोहे अर्थ सहित दोहा :- “जो बड़ेन को लघु कहें, नहीं रहीम घटी जाहिं. गिरधर मुरलीधर कहें, कछु दुःख मानत नाहिं.” अर्थ :- रहीम अपने दोहें में कहते हैं की किसी भी बड़े को छोटा कहने से बड़े का बड़प्पन कम नहीं होता, क्योकी गिरिधर को कान्हा कहने […]

poetry

क्या तुम्हें मालूम हैं ?

प्यार मैं दर्द कैसा होता हैं ? मेरे जज्बात क्या हैं तुम्हरे लिए ? कैसे रहता हूँ तुम्हारे यादों के सहारे ? क्या तुम्हे मालूम हैं ? कैसे खड़ा रहता था तुम्हारे लिए मॉल में ? तुम्हारा वह सस्ता सा  बिग सेल ऑफर वाला तोहफा  न चाहते हुए भी कैसे लेता था ? क्या तुम्हे […]