Uncategorized

नेताओं से आजादी बाकी है मेरे भाई

नेताओं से आजादी बाकी है मेरे भाई नेताजी कह रहे हैं- तू हिन्दू, तू मुस्लिम, तू सिख, तू ईसाई तो बताओ, तुम कैसे हुए भाई-भाई। भाईचारे के नाम पर भाई-भाई को आपस में लड़वाई अपनों को ही अपने से बैर करवाई अमन के नाम पर विष फैलाई। नेताओं का नहीं है कोई धर्म ईमान मेरे […]